पश्चिम बंगाल में बड़ा ट्रेन हादसा: ड्राइवर की लापरवाही से गई 15 यात्रियों की जान, 60 घायल
त्वरित ख़बरें - दीपमाला शेट्टी रिपोर्टिंग

पश्चिम बंगाल में बड़ा ट्रेन हादसा हो गया है। इस दुर्घटना में तीन बोगियां पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं जिसमें 15 लोगों की मौत हो गई है और 60 लोग घायल हो गए हैं। सीएम ममता बनर्जी ने हादसे पर गहरा दुख जताया है।

पश्चिम बंगाल में एक बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है। यहां ट्रैक पर खड़ी कंचनजंगा एक्सप्रेस ट्रेन को पीछे से तेज गति से आ रही एक मालगाड़ी ने जोरदार टक्कर मारी है, इस हादसे में अबतक 15 लोगों की मौत हो गई है। कहा जा रहा है कि एनजेपी से सियालदह जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस सिलीगुड़ी पार करने के बाद रंगपनीर स्टेशन के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गई है। इस दुर्घटना में ट्रेन के पीछे की तीन बोगियां बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई हैं। बताया जा रहा है कि हादसे में अबतक 15 यात्रियों की मौत हो गई और 60 लोग घायल हो गए हैं। इस हादसे में माल गाड़ी ट्रेन के लोको पायलट की भी मौत हो गई है। कहा जा रहा है ट्रेन के ड्राइवर की लापरवाही से ये हादसा हुआ है।

रेलवे से मिली जानकारी के मुताबिक हादसे में दो पैसेंजर बोगी और एक पार्सल बोगी क्षतिग्रस्त हो चुकी हैं। कहा जा रहा है कि इस हादसे में कई लोग हताहत हो सकते हैं। घटना स्थल के सभी सरकारी और प्राइवेट अस्पताल को अलर्ट पर रखा गया है।

दार्जिलिंग पुलिस के एडिशनल एसपी अभिषेक रॉय ने बताया, "हादसे में पांच यात्रियों की मौत हो गई है और 20-25 घायल हो गए हैं। कई घायलों की स्थिति गंभीर है। हादसा तब हुआ जब एक मालगाड़ी कंचनजंगा एक्सप्रेस से टकरा गई।"

रेल मंत्री अश्विवनी वैष्णव ने बताया दुर्भाग्यपूर्ण

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने दुर्घटना पर दुख जताया है और कहा है कि एनएफआर क्षेत्र में दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना हुई है। बचाव कार्य युद्धस्तर पर जारी है. रेलवे, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ निकट समन्वय में काम कर रहे हैं। घायलों को अस्पताल पहुंचाया जा रहा है. वरिष्ठ अधिकारी घटनास्थल पर पहुंच गए हैं।

रेल राज्य मंत्री रवनीत सिंह बिट्टू का ट्वीट

एनएफआर जोन में एक दर्दनाक हादसा हुआ है। रेलवे, एनडीआरएफ और एसडीआरएफ के समन्वित प्रयासों से तेजी से बचाव अभियान चल रहा है। घायलों को शीघ्रता से अस्पतालों में पहुंचाया जा रहा है। निगरानी के लिए वरिष्ठ अधिकारी मौके पर मौजूद हैं।

सीएम ममता बनर्जी ने जताया शोक

इस घटना पर सीएम ममता बनर्जी ने ट्वीट किया है। ममता ने लिखा है कि अभी दार्जिलिंग जिले के फांसीदेवा इलाके में एक दुखद रेल दुर्घटना के बारे में जानकर स्तब्ध हूं। हालांकि विवरण की प्रतीक्षा है, कंचनजंगा एक्सप्रेस कथित तौर पर एक मालगाड़ी से टकरा गई है। बचाव, चिकित्सा सहायता के लिए डीएम, एसपी, डॉक्टरों, एम्बुलेंस और आपदा टीमों को घटनास्थल पर भेजा गया है। युद्धस्तर पर कार्रवाई शुरू करने के निर्देश दिए गए हैं।

सियालदह में हेल्प डेस्क नंबर जारी:

033-23508794

033-23833326
GHY Station 
03612731621
03612731622
03612731623
LMG helpline no.
03674263958
03674263831

03674263120

03674263126
03674263858
 KIR STATION HELP DESK NO- 6287801805

 Help line Number at Katihar
09002041952
9771441956
 EmergencyNJP+916287801758

 HWH help desk nos. 03326413660
P & T presently placed at booth and at Enquiry 03326402242 03326402243..

हादसे से संबंधित अपडेट्स...

 पश्चिम बंगाल के सीमावर्ती इलाके में ट्रेन हादसा हुआ है।

सियालदाह जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस रंगापानी और निजबाड़ी के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गयी है।

 ट्रेन के 3 डिब्बे बेपटरी हो गए हैं।

पश्चिम बंगाल की बिहार सीमावर्ती इलाके में ये हादसा हुआ है।

13174 कंचनजंगा एक्सप्रेस रंगापानी और निजबाड़ी के बीच दुर्घटनाग्रस्त हो गई है।

ट्रेन अपने निर्धारित समय से लगभग एक घंटा लेट न्यू जलपाईगुड़ी से खुली थी।

 बताया जा रहा है कि कंचनजंगा एक्सप्रेस पटरी पर खड़ी थी।

 इसी दौरान पीछे से आ रही मालगाड़ी ने यात्री ट्रेन में टक्कर मार दी।

दार्जिलिंग एसपी, आईजी उत्तर बंगाल घटनास्थल पर मौजूद हैं। 

रेस्क्यू टीम मौके पर पहुंच गईं हैं और बचाव कार्य शुरू हो गया है।

राज्य सरकार द्वारा बचाव अभियान में शामिल होने के लिए एनडीआरएफ टीमों की मांग की गई है।

इस घटना में कंचनजंगा एक्सप्रेस की तीन बोगियां बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई है।

 वहीं रेल परिचालन भी प्रभावित हुआ है।

 कई ट्रेनें विभिन्न स्टेशनों पर खड़ी कर दी गई है।

 न्यू जलपाईगुड़ी से रिलीफ ट्रेन घटना स्थल की तरफ रवाना कर दी गई है।

इस हादसे में 10 से 15 लोगो के मौत की आशंका जताई जा रही है, जबकि दर्जनों लोग घायल बताए जा रहे है। कटिहार रेल मंडल के डीआरएम ने फोन पर दुर्घटना की पुष्टि करते हुए कहा कि एनजीपी और कटिहार से रेस्क्यू टीम को रवाना कर दिया गया है। हादसे के बाद किशनगंज गौहाटी रेल मार्ग पर यातायात बाधित है।
 
मालगाड़ी ने अगरतला से सियालदाह जा रही कंचनजंगा एक्सप्रेस को जैसे ही टक्कर मारी, हर तरफ चीख-पुकार मच गई।

टक्कर लगने की वजह से ट्रेन की बोगियां हवा में कई फीट हवा में उछल गईं।

 नॉर्थईस्ट फ्रंटियर रेलवे का कहना है कि हादसे के बाद भारी बारिश के बीच मौके पर राहत एवं बचाव कार्य जारी है।

सूत्रों का कहना है कि रेल सुरक्षा और दुर्घटनाओं पर जल्द ही एक उच्च स्तरीय बैठक हो सकती है।

हादसे की जांच के लिए जल्द ही कमेटी की घोषणा की जाएगी।

YOUR REACTION?

Facebook Conversations